Sunday, October 22News That Matters

Politics

भारत की राजनीति का वो बड़ा चेहरा जिसे भ्रष्टाचार के आरोप भी नहीं कर पाए सत्ता से दूर, 52 सालों से जीता हर चुनाव लेकिन नहीं बन सका मुख्यमंत्री

भारत की राजनीति का वो बड़ा चेहरा जिसे भ्रष्टाचार के आरोप भी नहीं कर पाए सत्ता से दूर, 52 सालों से जीता हर चुनाव लेकिन नहीं बन सका मुख्यमंत्री

Politics
भारत की राजनीति ने बदलती है कई बड़े-बड़े दिग्गजों की किसमत हमारे देश में ये कहावत है कि भारत में बच्चा माँ के पेट से राजनीति सीख कर पैदा होता हैl शायद यही कारण है कि भारत में जितनी राजनीति पार्टियां हर साल अलग-अलग चुनावों में अपनी किसमत आजमाती है उतना किसी और देश में शायद ही होता हो... हो भी क्यों नहीं, भारत की राजनीति में कुछ अलग ही बात हैl रिपोर्ट्स के अनुसार भारत में जितनी जल्दी एक नेता की संपत्ति में बढ़ोतरी होती है उतनी तेजी से किसी अन्य काम में होती हैl लेकिन ये आये दिन देखा गया है कि जितनी जल्दी राजनीति में आने से एक नेता की किसमत चमकी है उतनी ही जल्दी राजनीति के उतार-चड़ाव नेता की किसमत मिनट से पहले बदल देते हैंl एक नेता की किसमत का फिसला हमारे देश की जनता तह कटी हैl चुनाव के चलते जहाँ कई सारे मंत्री इलेक्शन हार जाते है तो कई ऐसी भी होते है जो इलेक्शन जीत जाते हैंl लेकिन क्या आप
नेता नरेंदर सिंह तोमर की हुई लाइव टेलीविज़न पर बैसती, एंकर राहुल कँवर को भी आया उनके ऊपर गुस्सा |

नेता नरेंदर सिंह तोमर की हुई लाइव टेलीविज़न पर बैसती, एंकर राहुल कँवर को भी आया उनके ऊपर गुस्सा |

Politics, vedio
हाल ही में ऐसा वीडियो सामने आये जिससे देखकर सब हैरान रह गए | इस वीडियो में एक न्यूज़ रिपोर्टर और एक नेता आपास में ही एक दूसरे के ऊपर चिल्ला रहे थे | और यह पूरा प्रोग्राम लाइव आ रहा था जिसके चलते स्टूडियो में जो हो रहा था उसका सीधा टेलीकास्ट टेलीविज़न पर आ रहा था और पूरी दुनिया उसे देख पा रही थी | हिन्दू युवा वाहिनी के हेड नरेंदर सिंह और राहुल कंवल जो पेशे से एक जौर्नालिस्ट हैं वह दोनों इंडिया टुडे के एक लाइव डिबेट प्रोग्राम में बाते कर रहे थे | वह दोनों मेरठ में हुए एक अपराध के ऊपर चर्चा कर रहे थे जिसमे मेरठ, नौचंदी पुलिस और हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने शास्त्रीनगर के एक घर में घुसकर एक प्रेमी जोड़े का दबोच लिया था | इसी मुद्दे पर भैस चल रही थी और यह मामला इतना गरमा गया की चीखने छिलने तक की नौबत आ गयी | आगे जानिए ऐसा क्या किया नेताजी ने जिसके चलते उनको ...
प्रेसिडेंट थेरेसा ने बजाये ब्रिटैन में हिंदी गाने जिसके चलते ऊँचा हो गया हिंदुस्तान का नाम |

प्रेसिडेंट थेरेसा ने बजाये ब्रिटैन में हिंदी गाने जिसके चलते ऊँचा हो गया हिंदुस्तान का नाम |

Politics
वैसे तो पूरी दुनिया में हिंदी का बोल बाला है और कई सारे अंग्रेज इंडिया आ कर हिंदी सीखना पसंद करते हैं और बोलने की कोशिश भी करते हैं | लेकिन केवल इंडिया में ही नहीं बल्कि पुरे देश में लोग हिंदी को ज्यादा महत्व देते हैं | हाल ही में एक ऐसी कहानियां सामने आयी जिससे यह साबित हो गया की ब्रिटिश से लेकर पूरी दुनिया में हिंदी में गाने बोले जाते हैं और पूरा देश हिंदी गानो का दीवाना  हैं | ऐसे ही कुछ देखने को मिला ब्रिटिश में जहाँ ब्रिटिश की पीएम थेरेसा ने हिंदी में गाने गाकर चुनाव प्रचार किया था | ब्रिटेन में 8 जून को जनरल इलेक्शन हैं और जनरल इलेक्शन में एक हिंदी गाना रिलीज़ किया जायेगा | जिसका टाइटल है "‘थेरेसा का साथ", "थेरेसा" यानि ब्रिटैन की पीएम | ब्रेक्जिट के बाद उन्होंने पीएम का पद संभाला था और अब वह दोबारा मैदान में आ रहीं हैं | लेकिन थेरेसा को हिंदी गाने वाले कैंपेन की इतनी जरुरत क्य
34 MBPS की स्पीड वाला इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी, जानिए उनके सोशल मीडिया अकाउंट की खास जानकारी |

34 MBPS की स्पीड वाला इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी, जानिए उनके सोशल मीडिया अकाउंट की खास जानकारी |

Politics
नरेंद्र मोदी भारत देश के प्रधानमंत्री हैं और वह डिजिटल इंडिया को काफी सपोर्ट करते हैं जिसके चलते वह सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं | वह अपने ट्वीट डेली अपडेट करते है और उन्हें सेल्फी लेने का भी काफी शॉक है | लेकिन लोगो के मन में कई तरह के सवाल उठते है की नरेंद्र मोदी के पास इतना वक्त आता कहाँ से है की वह हर वक़्त सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोशल मीडिया ज़िन्दगी से जुड़े इस तरह के सवाल करोड़ो लोगो के मन में आ रहे थे जिसका जवाब हाल ही में RTI द्वारा दिया गया |  आप भी पढ़िए कौन से है वो 5 सवाल अहम सवाल जिनके जवाब का इंतजार पूरी भारत की जनता कर रही हैं | 1. नरेंद्र मोदी के सोशल मीडिया अकाउंट को कौन संभालता है? RTI द्वारा मिले जवाब में यह साबित हुआ है की नरेंद्र मोदी अपना सोशल मीडिया अकाउंट खुद सँभालते हैं | लेकिन उनका ऑफिसियल अकाउंट उनका पीएमओ संभा
रिटायरमेंट के बाद इस बंगले में रहेंगे राष्टपति प्रणव मुखर्जी जिसमे सालों पहले APJ अब्दुल कलाम रहा करते थे, जानिए कौन सा है वो बांग्ला |

रिटायरमेंट के बाद इस बंगले में रहेंगे राष्टपति प्रणव मुखर्जी जिसमे सालों पहले APJ अब्दुल कलाम रहा करते थे, जानिए कौन सा है वो बांग्ला |

Politics
वैसे तो यह हर देश का नियम है की जब भी कोई इंसान देश की सरकार संभालता हैं या किसी बड़े पद पर देश के लिए काम करता है तो उसे अपने कार्यकाल के दोरान सरकारी बांग्ला दिया जाता हैं | लेकिन भारत एक ऐसा देश है जहाँ कार्यकाल ख़त्म होने के बाद भी पूर्व नेता को रहने के लिए बांग्ला दिया जाता है | भारत में ऐसे कई नेता हैं जो सरकारी बंगले में रिटायरमेंट के बाद भी रहते हैं जैसे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी | कुछ ही दिनों में उसमे एक नाम और जुड़ने वाला है और वो नाम हैं भारत देश के राष्टपति प्रणब मुखर्जी का | 17 जुलाई 2017 को  भारत देश के राष्टपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल ख़तम हो रहा है | कार्यकाल खत्म होने के बाद प्रणब मुखर्जी अपने काम से हमेशा के लिए सन्यास ले लेंगे | रिटायर होने के बाद उनके पास कई तरह के विकल्प हैं जहाँ वो रह सकते हैं | ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है की वह रिटायरमेंट के बाद 10 राजाज
इन लोगो के हाथ में हैं भारत देश की कमान, जानिए कौन हैं नरेंदर मोदी के सबसे खास 9 मंत्री |

इन लोगो के हाथ में हैं भारत देश की कमान, जानिए कौन हैं नरेंदर मोदी के सबसे खास 9 मंत्री |

Politics
भारत देश के प्रधानमंत्री नरेंदर मोदी हर वक़्त व्यस्त रहते हैं और किसी न किसी काम से कही न कही घूमते रहते हैं | लेकिन क्या आपको पता है उनके पीछे उनका काम कौन संभालता है | ऐसे कौन लोग हैं जो नरेंदर मोदी के पीछे उनका सारा काम संभलते हैं जिसके चलते नरेंदर मोदी बड़े ही आराम से एक दम टेंशन फ्री होकर घूमते हैं | यह हैं नरेंदर मोदी के वो 9 सेक्रेटरी जिनके ऊपर नरेंदर मोदी को सबसे ज्यादा भरोसा है | 1. अजित डोभाल यह मोदी के सबसे खास आदमियों में से एक हैं और यह नरेंदर मोदी के नेशनल सिक्यूरिटी एडवाइजर हैं | पाकिस्तान में हुई सर्जिकल स्ट्राइक के पीछे इनका ही मास्टरमाइंड था | नरेंदर मोदी के सिक्योरिटी के सभी मामले का ध्यान यही रखते हैं और सिक्योरिटी से कभी मसले यह बड़ी आसानी से संभल लेते हैं | रॉ, इंटेलिजेंस ब्यूरो और नेशनल टेक्निकल रिसर्च आर्गेनाइजेशन के सभी मामले अजित डोभाल ही हैंडल करते हैं
उसकी प्रेमिका न केवल उनका यूज्ड कंडोम संभालकर रखती थी बल्कि प्यार की सनक ने उसे बना दिया था कातिल

उसकी प्रेमिका न केवल उनका यूज्ड कंडोम संभालकर रखती थी बल्कि प्यार की सनक ने उसे बना दिया था कातिल

Ghanta Special, history, Politics
शेहला मसूद के मर्डर की सुपारी देने वाली जाहिदा परवेज भाजपा विधायक ध्रुवनारायण सिंह के प्यार में इस कदर पागल थी कि वो भाजपा के तत्कालीन विधायक के यूज्ड कंडोम भी प्लास्टिक पाउच में संभालकर रखती थी। इतना ही नहीं वो प्लास्टिक पैक के ऊपर उसको यूज करने की तारीख भी लिखती थी। बता दें कि 6 साल चले इसकेस में 137 तारीखों पर सुनवाई हुई। इस दौरान CBI ने 83 गवाह पेश किए थे वर्ष 2011 में हुआ था मृतक शेहला RTI एक्टिविस्ट थीं। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर इस मर्डर की क्या है असली वजह, तो आज हम आपको इसी बात से अवगत कराएँगेl साल 2011 में शेहला का भोपाल में उस वक्त मर्डर कर दिया गया जब 38 वर्षीय शेहला अपने घर से ऑफिस जाने के लिए निकली थीं। जैसे ही वे कार में बैठीं,उन्हें गोली मार दी गई। फैसला आने के बाद शेहला के पिता ने कहा,’मैं फैसले का सम्मान करता हूं। अब मेरी बेटी तो वापस नहीं आएगी। मुझे और कुछ नह
Online Survey : क्या इन चुनावों के EVM ‘घोटाले’ की जांच होनी चाहिए ?

Online Survey : क्या इन चुनावों के EVM ‘घोटाले’ की जांच होनी चाहिए ?

Politics
यह भी पढ़िए : Petrol Pump पर कट रही है आपकी जेब, जानिये कैसे ! Video :- हिंदुस्तानी सिख ने पाकिस्तानी खिलाडी को दिया करारा चांटा ! वो 10 काम जिसमे बहुत पैसा है लेकिन मेहनत बिलकुल भी नहीं, ऐसे काम करके आप भी अमीर बन सकते हैं !
ये 10 कारण जो आपको यूपी में किसकी सरकार बनेगी का आकलन करने से रोकती है!

ये 10 कारण जो आपको यूपी में किसकी सरकार बनेगी का आकलन करने से रोकती है!

Politics
वैसे तो आज कल चुनावी डोर चल रहा है और सभी उत्तर प्रदेश के लोग ये अटकले लगा रहे है की कौन जितेगा कौन नहीं लेकिन वो क्या 10 कारण है जिसके चलते यह फैसला लेना काफी मुश्किल बना हुआ है की उत्तर प्रदेश में किसी सरकार बनेगी और कौन जीतेगा | आखिर कार वो क्या कारण है जिसके चलते यह तह कर पाना मुश्किल हो गया है की सरकार BJP की होगी, BSP की या कांग्रेस की | जानिए वो 10 कारण जो आपकी मुश्किल को आसान कार देंगे | 1. SP-कांग्रेस गठबंधन को एसिड टेस्ट का सामना करना पड़ा क्योंकि उन्हें पागपुर विधानसभा क्षेत्र में एक दूसरे के खिलाफ उम्मीदवार खड़ा कर दिया गया है | 2. 2012 के मुताबिक 2017 का चुनावी हाल काफी अच्छा रहेगा और उत्तेजक टिप्पणियों के बावजूद सांप्रदायिक लाइनों पर शायद ही कोई ध्रुवीकरण नहीं हो | राजनीति टीकाकार विनोद दुबे के मुताबिक मुस्लमान और यादव ने इस बार प्रतिक्रिया नहीं की लेकिन उनके मतदान प्
चुनावी मैदान पर गधा पड़ा भरी, अखिलेश यादव, नरेंद्र मोदी, डिंपल यादव सबको पीछे छोड़ दिया इस गधे ने!

चुनावी मैदान पर गधा पड़ा भरी, अखिलेश यादव, नरेंद्र मोदी, डिंपल यादव सबको पीछे छोड़ दिया इस गधे ने!

Entertainment, Ghanta Special, Politics
होली की इस घमासान में  जब से गधे  ने चुनाव में हिस्सा लिया है तबसे इसका औरा काफी बढ़ गया है | ऐसे मोके पर तो गधे को गधा कहना भी थोड़ा मुसीबत का काम लगता है | जहाँ चुनावी जगह उत्तर प्रदेश में गधो का प्रचार किया जा रहा है वह अब होली पर भी गधा नंबर 1 बना हुआ है | होली से पहले ही गधा पिचकरी धूम धाम से बिक रही है | जहाँ हर तरह मोदी के नाम की पिचकारी, अखिलेश यादव के नाम की पिचकारी, डिंपल यादव के नाम की पिचकारी बिख रही है वही गधा पिचकारी भी तेजी से बिक रही है |